प्रधानमंत्री राष्ट्रपति एवं उपराष्ट्रपति की सैलरी कितनी मिलती है

राष्ट्रपति प्रधानमंत्री एवं उपराष्ट्रपति की सैलरी

Hello friends स्वागत है हमारे वेबसाइट पर दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपके साथ प्रधानमंत्री राष्ट्रपति उपराष्ट्रपति सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश विधायक राज्य के मुख्यमंत्री लोक सभा स्पीकर अन्य संवैधानिक पद जिनको हाईएस्ट सैलरी मिलती है उसके बारे में इस पोस्ट के माध्यम से हम पूरी विस्तार पूर्वक व्याख्या करने की कोशिश करेंगे जिससे आपको आने वाले सभी एग्जाम में महत्वपूर्ण साबित होगा!

rashtrapati ki salary kitni hai,
rashtrapati ki salary kitni hai 2021,
rashtrapati ki salary per month,
rashtrapati ki salary in india,
rashtrapati ki salary kya hoti hai,
rashtrapati ki salary kon deta hai,
rashtrapati ki salary kitni,
rashtrapati ki salary batao,
rashtrapati ki salary kitni hoti hai,
america ke rashtrapati ki salary kitni hai,
america ke rashtrapati ki salary,
bharat ke rashtrapati ki salary kitni hai,
bharat ke up rashtrapati ki salary kitni hai,
president ki salary kaun deta hai,
rashtrapati ki ek mahine ki salary,
rashtrapati ki ek mahine ki salary kitni hai,
bharat ke rashtrapati ki salary,
pakistan ke rashtrapati ki salary,
up rashtrapati ki salary kitni hai,
rashtrapati ki salary kitni hai india mein,
rashtrapati ki masik salary,
rashtrapati ki monthly salary kitni hai,
राष्ट्रपति की सैलरी पर मंथ,
uprashtrapati ki salary,
rashtrapati up rashtrapati ki salary,
up rashtrapati ki salary,
up rashtrapati ki salary kitni hoti hai,
rashtrapati ki salary 2021,

राष्ट्रपति की सैलरी कितनी होती है?

राष्ट्रपति देश का प्रथम नागरिक होता है वह देश के तीनों सशस्त्र बल यानी थल सेना वायु सेना नौसेना के सर्वोच्च सेनापति होता है वर्तमान में राष्ट्रपति की सैलरी 500000 मासिक वेतन मिलता है जो पहले डेढ़ लाख मिलता था राष्ट्रपति के वेतन के अलावा अन्य भत्ते भी दिए जाते हैं जिसमें मुफ्त चिकित्सा आवास एवं उपचार सुविधा जीवन भर मिलते रहती है इसके अलावा भारत सरकार हर साल उनके अन्य खर्च जैसे आवास स्टॉप खाने-पीने और अतिथियों की मेजबानी पर करीब 2.25 करोड़ रुपए खर्च करते हैं! राष्ट्रपति की सैलरी पर टैक्स नहीं लगता है राष्ट्रपति के जीवन साथी को भी हर महीने ₹30000 सेक्रेटेरियल असिस्टेंट के तौर पर मिलता है

जब राष्ट्रपति रिटायर हो जाते हैं तब उनको हर महीने 150000 पेंशन मिलता है और राष्ट्रपति के जीवन साथी को हर महीने 30000 सेक्रेटिशन असिस्टेंट के तौर पर मिलते रहता है साथ ही फर्निश्ड रेंट बंगला फ्री में मिलता है उसके साथ साथ दो फ्री लैंडलाइन और एक मोबाइल फोन साथ में स्टाफ खर्च के लिए हर साल ₹   60000 रेल विमान से फ्री यात्रा के साथ-साथ एक आदमी को भी ले जा सकते हैं!

प्रधानमंत्री की सैलरी

pradhan mantri ka salary kitna hai,
प्रधान मंत्री का सैलरी कितना है,
bharat ke pradhanmantri ki salary kitni hai,
india ke pradhanmantri ka salary kitna hai,
bharat ke pradhanmantri ka salary kitna hai,
pradhan mantri ki monthly salary,
pradhan mantri ki salary,
pradhan mantri ki salary kaun deta hai,
प्रधानमंत्री की सैलरीी,
pradhan mantri ki salary 2021,

जैसा कि आप सभी जानते हैं की भारत के प्रधानमंत्री में सभी शक्तियां निहित होती है और वह भारत देश में सबसे ताकतवर आदमी प्रधानमंत्री को माना जाता है क्योंकि उनके हाथों में पूरे देश की बागडोर होती है देश के प्रधानमंत्री कभी भी देश में चल रहे रुपयों को बंद करने का भी दम रखते हैं और हमने कुछ समय पहले देखा कि 500 और 1000 के नोट को बंद कर दिए गए थे तो आज के इस पोस्ट में नीचे हम बता रहे हैं कि देश के प्रधानमंत्री का वेतन कितना होता है अगर आप सोच रहे होंगे कि प्रधानमंत्री मोदी जी की सैलरी करोड़ों रुपए होगी तो ऐसा बिल्कुल नहीं है!

प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री की बेसिक सैलरी ₹50000 होती हैं निर्वाचन क्षेत्र भत्ता ₹45000 होता है रोज का भत्ता ₹2000 यानी कि ₹62000 और अन्य भत्ता ₹3000 यानी कुल मिलाकर नरेंद्र मोदी जी को सैलरी ₹180000 प्रति महीना मिलता है!

उपराष्ट्रपति का वेतन कितना मिलता है?

सातवें वेतन आयोग के अनुसार राष्ट्रपति और उनका वेतन मान साथ ही साथ उपराष्ट्रपति का भी वेतन पहले से बढ़ चुका है सातवें वेतन के अनुसार उपराष्ट्रपति को चार लाख प्रति महीने वेतन दिया जाता है ध्यान देने वाली बात यह है कि जो उपराष्ट्रपति का वेतन है उन्हें वेतन उपराष्ट्रपति के तौर पर नहीं मिल रहा है उसे वेतन राज्य सभा के अध्यक्ष के तौर पर मिलता है राष्ट्रपति का पद का प्रयोग तभी कर सकती है जब राष्ट्रपति अपने पद पर ना हो

इसके अलावा और उनकी कोई भी अलग पावर नहीं है जब तक राष्ट्रपति पद पर बना है तब तक उपराष्ट्रपति का कोई मायने नहीं रखता जब वहां नहीं होता है तब राष्ट्रपति अपने पद पर नहीं है तभी उपराष्ट्रपति पद को मान्यता मिलता है इसके अलावा उप राष्ट्रपति राज्यसभा का सभापति होता है!

तैयारी में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका Online Test Series  की होती है तो आप के साथ हम नीचे टेस्ट सीरीज भी उपलब्ध करा रहे हैं जिसको आप लोग क्लिक करके   ज्वाइन कर सकते हैं  !

Join Here –Online Test Series देने के लिए क्लिक करके ज्वाइन करें

Click Here to Subscribe Our Youtube Channel

Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *